संवाददाता: कुमार विवेक, नमस्कार भारत

कोलकाता नाइट राइडर्स के 29 वर्षीय खिलाड़ी की पुरानी चोट फिर एक बार परेशानियों का सबब बन रही है, जिसकी वजह से उनका आगामी आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) सीजन में खेलना मुश्किल माना जा रहा है। खबर आ रही है कि वह आईपीएल 2024 के शुरूआती मैचों से बाहर हो सकते हैं। हाल ही में उन्हें बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंध से बाहर किया गया था।

भारतीय टीम के मध्यक्रम बल्लेबाज श्रेयस अय्यर पिछले कुछ वक्त से पीठ की चोट से परेशान हैं। मंगलवार को रणजी ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में विदर्भ के खिलाफ उन्होंने दमदार प्रदर्शन किया। इस दौरान वह पीठ दर्द से परेशान दिखे। अय्यर की यह चोट  कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए सिरदर्द बन गई है। पिछले साल उन्होंने सर्जरी कराई थी, जिस  वजह से वह आईपीएल 2023 में नहीं खेल पाए थे। इस बीच खबर आ रही है कि वह एक बार फिर आगामी टूर्नामेंट के शुरूआती मुकाबलों से बाहर हो सकते हैं।

आईपीएल 2024 में केकेआर 23 मार्च को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच से अपने अभियान की शुरूआत करेगी। इससे पहले टीम को तगड़ा झटका लग सकता है। दरअसल, कप्तान श्रेयस अय्यर को पीठ दर्द की समस्या से जूझते देखा जा रहा है। हाल ही में वह भारत बनाम इंग्लैंड सीरीज से भी बाहर हो गए थे। शुरूआती दो टेस्ट मैचों की चार पारियों में उन्होंने 104 रन बनाए थे। इसके बाद उन्हें रणजी ट्रॉफी के फाइनल मैच में खेलते देखा गया। हालांकि, बुधवार को वह मैदान पर नहीं दिखे।

शुरूआती मैचों में नही खेलेंगे श्रेयस

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रेयस की पुरानी चोट ने एक बार फिर उफान मारा है, जिसकी वजह से उनका आगामी आईपीएल सीजन में खेलना मुश्किल माना जा रहा है। खबर है कि वह आईपीएल 2024 के शुरूआती मैचों से बाहर हो सकते हैं। हाल ही में उन्हें बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंध से बाहर का रास्ता दिखाया गया था। उन्हें घरेलू क्रिकेट में नहीं खेलने की बड़ी सजा बीसीसीआई द्वारा दी गई थी।

शतक से चूके अय्यर

वानखेड़े स्टेडियम में खेले जा रहे मुंबई बनाम विदर्भ रणजी फाइनल में कि श्रेयस अय्यर ने विस्फोटक प्रदर्शन किया। उन्होंने 111 गेंदों में 10 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 95 रनों की धुआंधार पारी खेली। हालांकि, वह इस पारी को शतक में तब्दील करने से चूक गए। इस मुकाबले में अय्यर ने मुशीर खान के साथ विदर्भ गेंदबाजों की खबर ली। पहली पारी में अय्यर ने सिर्फ सात रन बनाए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *